Home Tech Free wi fi उपयोग करने से पहले यह जानना है बहुत जरुरी

Contents

Free wi fi उपयोग करने से पहले यह जानना है बहुत जरुरी

एक रिपोर्ट के मुताबिक 31 फीसदी लोग फ्री वाई-फाई का इस्तेमाल अश्लील सामग्री देखने के लिए करते हैं। यही वह समय होता है। जब हैकर्स आपको ट्रेस कर आपके डिवाइस में घुस जाते हैं।

अगर आप भी free wi fi  उपयोग करने के हैं शौकीन तो आपको यह जानना है बहुत जरुरी

अधिकतर फ्री वाई-फाई सिक्योर नहीं होते हैं। पब्लिक वाई -फाई सबसे ज्यादा हैकर्स के निशाने पर रहते हैं। सार्वजनिक वाई-फाई का नेटवर्क मूल रूप से दो प्रकार का होता है, सुरक्षित और असुरक्षित।

असुरक्षित नेटवर्क बगैर किसी झंझट के आपके मोबाइल-लैपटॉप से तुरंत कनेक्ट हो जाएगा। यानी किसी तरह की सिक्योरिटी, पासवर्ड या लॉगइन करना नहीं पूछेगा।

Coronavirus: भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की बढ़ी संख्‍या, एक की हुई मौत

जुड़ने के बाद आप खोलना किसी और वेबसाइट को चाहते हैं, लेकिन खुलती दूसरी साइट है। आपसे फिर से लॉगइन मांगा जाता है और इसी दौरान आपका फोन हैकर्स के कब्जे में चला जाता है।

सुरक्षित नेटवर्क

इसके विपरीत एक सुरक्षित नेटवर्क से जुड़ने के लिए आपको कुछ शर्तों का पालन करना पड़ता है। जैसे कि वह पूछेगा कि क्या आप रजिस्टर करने या नेटवर्क से कनेक्ट होने से पहले ओटीपी पूछा जाता है या पासवर्ड टाइप करने को कहा जाएगा।

वायरस का पॉपअप दिखाकर डराते हैं

हैकर्स आपसे फोन में ऐप इंस्टॉल करने की कोशिश करते हैं। इसके लिए आपके फोन में वायरस है, जैसे पॉपअप दिखते हैं। न समझने वाले ज्यादातर लोग इन पर क्लिक करते हैं और ऐप डाउनलोड हो जाता है। इसके जरिये हैकर्स आपके फोन में आसानी से पहुंच जाते हैं। देश में कई कॉफी शॉप और होटल इंक्रिप्शन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल नहीं करते, ऐसे में हमारे डिवाइस का डाटा असुरक्षित रहता है।

फेक वाई-फाई हॉटस्पॉट

न्योता देने वाला यह एक ओपन हॉटस्पॉट है। आमतौर पर एक वैध हॉटस्पॉट के नाम जैसा इसका नाम होता है। इसके
द्वारा साइबर क्रिमिनल्स अपने नेटवर्क से लोगों को जोड़ने के लिए लालच देते हैं।

लालच इंतना पॉवरफुल होता है कि आप उनसे जुड़ ही जाते हैं। यदि आपका फाइल शेरयरिंग ऑप्शन ऑन है तो आपके सोशल अकाउंट, पर्सनल इन्फॉर्मेशन तक पहुंचकर डेटा चुरा लेते हैं। इस डेटा का दुरुपयोग आपके खिलाफ हो सकता है।

मालवेयर इंस्टाल कर देते हैं

उनके नेटवर्क से जुड़ने के बाद हैकर्स आपको फेक वॉर्निंग भेजते हैं कि फलां एप डाउनलोड कर लें। फोर्सली सिस्टर अपग्रेड करने को कहते हैं। वे मालवेयर एप इंस्टाल कर आपको हैक कर लेते हैं।

किसान विकास पत्र (KVP): ब्‍याज दर, निवेश सीमा और लॉक इन पीरियड

16 March 2020 के पहले करे ये काम नहीं तो हो सकता है आपका डेबिट-क्रेडिट कार्ड बंद

Pratima Patel
Hindi News (हिंदी समाचार): Get updated with all news like business news, idea, entertainment, tech,sports, politics and life style related news from all over India and around the world. यहां पर आपको हिंदी समाचार जैसे देश-दुनिया, बिजनेस, मनोरंजन, टेक, खेल पॉलिटिक्‍स और लाइफस्‍टाइल से जुड़ी खबरें पढ़ने को मिलेंगी।

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

एशिया का सबसे बड़ा सोलर प्‍लांट भारत के रीवा शहर में, जानें इसकी खास बातें

एशिया का सबसे बड़ा सोलर प्‍लांट: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में भारत के सबसे बड़े सोलर प्‍लांट का उद्घाटन किया है जो...

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) कैसे बनवाएं?

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) भारत सरकार की एक खास योजना है, जिसका उद्देश्य किसानों को असंगठित क्षेत्र में आमतौर पर मनी लेंडर्स द्वारा लगाए...

वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना के बारे में पूरी जानकारी

वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना: वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार 14 मई 2020 को मार्च 2021 तक सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों...

आत्‍मनिर्भर भारत अभियान (Atmanirbhar Bharat Abhiyan): 20 लाख करोड़ का पैकेज किस तरह से बटेगा जानिए यहां

आत्‍मनिर्भर भारत अभियान (Atmanirbhar Bharat Abhiyan): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के लिए अपने पांचवें संबोधन में 'आत्‍मनिर्भर भारत अभियान' (Atmanirbhar Bharat Abhiyan) के...

Recent Comments