Home News दो पहिया वाहनों का इंश्योरेंस (Two Wheeler Insurance) कैसे रिन्यू करें?

Contents

दो पहिया वाहनों का इंश्योरेंस (Two Wheeler Insurance) कैसे रिन्यू करें?

दो पहिया वाहनों का इंश्योरेंस (Two Wheeler Insurance) भी उतना ही जरुरी है जितना की चार पहिया या अन्‍य किसी बड़े वाहनों की। भले ही ऑटो सेक्‍टर में मंदी हो फिर भी वाहनों की बिक्री लगातार बढ़ रही है।

दो पहिया वाहनों का इंश्योरेंस (Two Wheeler Insurance) भी उतना ही जरुरी है जितना की चार पहिया या अन्‍य किसी बड़े वाहनों की। भले ही ऑटो सेक्‍टर में मंदी हो फिर भी वाहनों की बिक्री लगातार बढ़ रही है। बढ़ते वाहनों की संख्‍या के साथ ही भारत की सड़कों पर रोड एक्सीडेंट्स की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। गलत तरीके से वाहन चलाना भी इसका बड़ा कारण है। इसे ध्यान में रखते हुये आज अधिकतर लोग हेल्थ इंश्योरेंस लेने लग गए हैं।

जब आपके खुद के वाहन को नुकसान हो या थर्ड पार्टी को मुआवजा देना हो, ऐसे में ये खर्च आपके जेब पर भारी पड़ सकता है। ऐसे खर्चों पर आपका कोई नियंत्रण नहीं रहता है। आप ऐसी स्थिति का अंदाज़ा नहीं लगा सकते हैं। इसलिए, अच्छा है कि आप टू व्हीलर इंश्योरेंस (Two Wheeler Insurance) लें इससे वाहन की और आपकी बचत दोनों की सुरक्षा होगी। जब आप अपनी बाइक को रिपेयर के लिए भेजेंगे तो बाइक इंश्योरेंस खर्चा उठाने में आपकी मदद करेगा। यह थर्ड पार्टी को या थर्ड पार्टी द्वारा किए गए नुकसान की भरपाई भी करेगा।

हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पॉलिसी (Health Insurance Policy) में पाएं योग और जिम क्‍लासेस के फ्री वाउचर

दो पहिया वाहनों का इंश्योरेंस (Two Wheeler Insurance) में एक साल के लिए मिलता है रिस्‍क

ऑटोमोबाइल इंश्योरेंस वाहन बीमाकर्ता और पॉलिसी धारक के बीच एक समझौता होता है। जिसमें कि अप्रत्‍याशित घटना होने पर बीमाकर्ता कंपनी आपके वाहन के नुकसान की एक निश्चित राशि उठाती है। बीमाकर्ता कंपनी एक निश्चित राशि उठाती और इसके बदले में पॉलिसी धारक को एक निश्चित प्रीमियम देना होता है।

टू-व्हीलर इन्शोरेंस पॉलिसी या बाइक इन्शोरेंस पॉलिसी एक साल के समय के लिए रिस्क कवर प्रदान करती है। जब इसका पीरियड खत्म हो जाता है, तब पॉलिसी धारक को इसे एक निश्चित राशि देकर फिर से रिन्यू करवाना होता है।

जियो (Jio) ने बंद किया ये पुराना ऑफर, अब नहीं मिलेगा यह फायदा

एक ऑटो मोबाइल इंश्योरेंस का रिन्यू दो तरह से होता है-

  • इंश्योरेंस कंपनी से संपर्क करें- आपको बीमाकर्ता कंपनी के ऑफिस में जाना होगा और अपना प्रीमियम जमा करवाना होगा। इसके बदले आपको पॉलिसी रिन्यू का प्रिंट आउट मिलेगा।
  • ऑनलाइन पेमेंट- आप ऑनलाइन एनईएफ़टी से या डेबिट या क्रेडिट कार्ड से घर बैठे भी पॉलिसी रिन्यू का प्रीमियम दे सकते हैं। इसमें आपको ऑफिस नहीं जाना होता और समय की बचत होती है। आपको केवल बीमाकर्ता की वेबसाइट पर जाकर लॉगिन करना होता है। आपके पास पेमेंट करने के कई विकल्प होते हैं।

पेट्रोल पंप (Petrol Pump): ग्रामीणों को घर के आस-पास ही मिलेगा पेट्रोल-डीजल, जानें कैसे

इंश्‍योरेंस रिन्‍यू कराने का ऑनलाइन (Online) तरीका है ज्‍यादा बेहतर

ऑटोमोबाइल इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करने में आपका ही फायदा है। आपको समय-समय पर नोटिफिकेशन मिलते रहे हैं इससे आपको ड्यू डेट की जानकारी मिल जाती है। इससे प्रीमियम के भुगतान में देरी नहीं होती है और आपका वाहन सुरक्षित रहता है। अगर दोनों तरीकों की तुलना करें तो ऑफलाइन तरीके में ज़्यादा समय खराब होता है जब कि ऑनलाइन तरीका आसान है।

पीएम किसान (PM Kisan): 30 नवंबर के बाद किसानों को मिलने लगेगा यह लाभ

इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करने की गाइडलाइंस (Guideline of insurance to renew the policy)

प्रीमियम भुगतान और इंश्योरेंस पॉलिसी को रिन्यू करने की गाइडलाइंस हर कंपनी में अलग-अलग हो सकती हैं। फिर भी, प्रोसेस को फिनिश करने का तरीका सबमें एक जैसा है। इसलिए ज़रूरी है कि आप एक बार कंपनियों के तरीकों को क्रॉस चेक कर लें ताकि आपको इंश्योरेंस रिन्यू करने में ज़्यादा परेशानी ना हो।

अपने ऑटोमोबाइल इंश्योरेंस को समय से पहले रिन्यू करवाने ली सलाह दी जाती है। इससे आपको लगातार करने का फायदा मिलता है।

ईएसआईसी (ESIC): नौकरी जाने के 2 साल बाद भी मिलेगी सैलरी, जानें कैसे

दो पहिया वाहन का ऑनलाइन इंश्योरेंस करने के कुछ सामान्य तरीके-

1. सबसे पहले अपनी पसंदीदा वेबसाइट पर जाकर लॉगिन करें।

2. अपनी बाइक की ज़रूरी जानकारी भरें।

3. प्रीमियम की राशि जाँचें और भुगतान करें। अपनी एनईएफ़टी या क्रेडिट/डेबिट कार्ड की जानकारी भरें।

पेमेंट के प्रूफ के रूप में ट्रांजेक्शन का प्रिंट आउट ले लें। इसमें थोड़ा ही समय लगता है और आप घर बैठे इंश्योरेंस रिन्यू कर सकते हैं। यह एकदम आसान और झंझट फ्री है।

1 दिसंबर 2019 से सभी वाहनों के लिए FASTag होगा अनिवार्य: जाने कैसे खरीदें स्टेप बाई स्टेप

ध्यान देने योग्‍य बातें (Point To Be Noted)- पॉलिसी रिन्यू करने के लिए ओपन या फ्री वाई-फ़ाई का इस्तेमाल ना करें। इससे कोई आपकी एनईएफ़टी या क्रेडिट/डेबिट कार्ड की जानकारी का गलत इस्तेमाल कर सकता है।

Pratima Patel
नमस्कार दोस्तों मेरा नाम संदीप सिंह है, मैं एक प्रोफेशनल ब्लॉगर + कंटेंट राइटर + वेबसाइट डिजाइनर हूँ। ब्लॉग्गिंग मेरा फुल टाइम वर्क है, यदि आपको किसी तरह की कोई हेल्प चाहिए हो तो मुझे मेरी मेल Id- iamtechindia786@gmail.com पे संपर्क कर सकते हैं और मुझसे जितना हो सकेगा पूरी हेल्प करूँगा।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

एशिया का सबसे बड़ा सोलर प्‍लांट भारत के रीवा शहर में, जानें इसकी खास बातें

एशिया का सबसे बड़ा सोलर प्‍लांट: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में भारत के सबसे बड़े सोलर प्‍लांट का उद्घाटन किया है जो...

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) कैसे बनवाएं?

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) भारत सरकार की एक खास योजना है, जिसका उद्देश्य किसानों को असंगठित क्षेत्र में आमतौर पर मनी लेंडर्स द्वारा लगाए...

वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना के बारे में पूरी जानकारी

वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना: वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार 14 मई 2020 को मार्च 2021 तक सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों...

आत्‍मनिर्भर भारत अभियान (Atmanirbhar Bharat Abhiyan): 20 लाख करोड़ का पैकेज किस तरह से बटेगा जानिए यहां

आत्‍मनिर्भर भारत अभियान (Atmanirbhar Bharat Abhiyan): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के लिए अपने पांचवें संबोधन में 'आत्‍मनिर्भर भारत अभियान' (Atmanirbhar Bharat Abhiyan) के...

Recent Comments