Post Office मंथली इनकम स्‍कीम (MIS) से हर महीने बिना रिस्‍क के होगी कमाई

Post Office मंथली इनकम स्‍कीम (MIS) खाते में निवेश पर 7.6 प्रतिशत की दर से वर्तमान में ब्‍याज प्रदान करता है। छोटी बचत योजनाओं जैसे कि डाकघर मासिक आय योजना खाते पर लागू ब्याज दरों की वर्तमान में वित्त मंत्रालय द्वारा तिमाही आधार पर समीक्षा की जाती है।

1
Post Office Monthly Income Scheme (MIS)
Post Office Monthly Income Scheme (MIS)

Post Office मंथली इनकम स्‍कीम (MIS) खाते में निवेश पर 6.6 प्रतिशत की दर से वर्तमान में ब्‍याज प्रदान करता है। छोटी बचत योजनाओं जैसे कि डाकघर मासिक आय योजना खाते पर लागू ब्याज दरों की वर्तमान में वित्त मंत्रालय द्वारा तिमाही आधार पर समीक्षा की जाती है। पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना खाता नौ सरकारी-संचालित छोटी बचत योजनाओं का हिस्सा है, जिसमें 15 वर्षीय सार्वजनिक भविष्य निधि और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) शामिल है।

किसान विकास पत्र (KVP): ब्‍याज दर, निवेश सीमा और लॉक इन पीरियड

पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्‍कीम क्‍या है? (What Is The Post Office Monthly Income Scheme?)

पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्‍कीम (POMIS) भारत सरकार समर्थित एक छोटी बचत योजना है जो निवेशक को हर महीने एक विशिष्ट राशि सेट करने की अनुमति देती है। इसके बाद, लागू दर पर इस निवेश में ब्याज जोड़ा जाता है और मासिक आधार पर जमाकर्ता को भुगतान किया जाता है।

पोस्‍टल लाइफ इंश्‍योरेंस (PLI) क्‍या है इसके कौन-कौन से प्‍लान हैं?

पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्‍कीम की ब्‍याज दर क्‍या है? (What Is The Interest Rate Of Monthly Income Scheme In Post Office?)

चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही के लिए, पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना खाते में निवेश 6.6 प्रतिशत की दर से ब्याज प्राप्त करता है। भुगतान की गई ब्याज दर वरिष्ठ नागरिकों पर लागू नहीं होती है और जो इस श्रेणी के हैं, वे वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) में निवेश कर सकते हैं।

Coronavirus (कोरोना वायरस) की इस लड़ाई में PMCARES फंड में दे अपना सहयोग

ब्याज को एक पोस्ट-डेटेड चेक (पीडीसी) या इलेक्ट्रॉनिक क्लियरिंग सर्विस (ईसीएस) के माध्यम से उसी पोस्ट ऑफिस में बचत खाते में ऑटो क्रेडिट के माध्यम से निकाला जा सकता है।

पोस्‍ट ऑफिस में कौन सी योजना सबसे बेहतरीन है? (Which Scheme Is Best In Post Office?)

पोस्‍ट ऑफिस में कई सारी बचत योजनाएं हैं जिनमें से पोस्‍ट ऑफिस की मंथली इनकम स्‍कीम, सीनियर सिटीजन सेविंग स्‍कीम, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट, किसान विकास पत्र, पीपीएफ और सुकन्‍या समृद्धि स्‍कीम प्रमुख हैं। इन योजनाओं में आप अपनी उम्र और तजुर्वे के हिसाब से ब्‍याज दर देखकर निवेश कर सकते हैं। इन सभी योजनाओं की अपनी अलग-अलग खासियत है।

Lockdown: निर्मला सीतारमण ने गरीबों को प्रदान किया 1.7 लाख करोड़ रुपए का राहत कोष

क्या डाकघर में मासिक आय योजना कर योग्य है? (Is Monthly Income Scheme In Post Office Taxable?)

पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्‍कीम धारा 80 सी के तहत कोई कर छूट प्रदान नहीं करती है। सीधे शब्दों में कहें कि डाकघर की मासिक आय योजना में निवेश की गई राशि कर कटौती योग्य नहीं है। पोस्ट ऑफिस MIS पर कोई टीडीएस नहीं है, लेकिन ब्याज आय आपके हाथों में कर योग्य है।

SBI में सुकन्‍या समृद्धि खाता खोलने की स्‍टेप वाय स्‍टेप प्रक्रिया

डाकघर की मासिक आय योजना में निवेश के लिए मिनिमम राशि (Minimum Amount For Invest In Post Office Monthly Income Scheme)

इंडिया पोस्ट वेबसाइट – indiapost.gov.in के अनुसार, पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना के तहत खाता खोलने के लिए, न्यूनतम 1,000 रुपये का निवेश करना होगा। 1,000 रुपये से अधिक की किसी भी राशि का उपयोग खाता स्थापित करने के लिए किया जा सकता है।

कोरोना वायरस: वर्क फ्रॉम होम के लिए BSNL और JIO के खास ऑफर

पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्‍कीम में निवेश के लिए अधिकतम राशि (Maximum Amount For Invest In Post Office Monthly Income Scheme)

एकल खाते के लिए, निवेश के लिए 4.5 लाख रुपये की अधिकतम सीमा लागू है। एक संयुक्त समझौते के लिए, ऊपरी सीमा 9 लाख रुपये है। एक व्यक्ति मासिक आय योजना में अधिकतम 4.5 लाख रुपये का निवेश कर सकता है, जिसमें किसी भी संयुक्त खाते में उस व्यक्ति का हिस्सा शामिल है।

पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्‍कीम को संचालिक करने का तरीका (Mode Of Operation)

पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम स्‍कीम खाता एकल या संयुक्त आधार पर संचालित किया जा सकता है।

लेटेस्ट खबरें पढ़ने के लिए आप हमारे चैनल को फेसबुकट्वीटर और इंस्‍टाग्राम पर फॉलो और लाइक करें।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here