वित्‍तमंत्री: कैंप लगाकर बांटेगे 400 जिलों में लोन, सांसद बनेंगे गवाह

अर्थव्‍यवस्‍था में सुधार लाने के लिए वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारमण ने यह ऐलान किया है कि बैंक देश में अगले 25 दिनों के अंदर देश के 400 शहरों में मेला लगाकर लोन बांटेंगे। उन्होंने कहा कि फेस्टिव सीजन में लोगों को आसानी से लोन मिल सके इसलिए ऐसा किया जाएगा।

2
Nirmala-Sitharaman
Nirmala-Sitharaman

अर्थव्‍यवस्‍था में सुधार लाने के लिए वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारमण ने यह ऐलान किया है कि बैंक देश में अगले 25 दिनों के अंदर देश के 400 शहरों में मेला लगाकर लोन बांटेंगे। उन्होंने कहा कि फेस्टिव सीजन में लोगों को आसानी से लोन मिल सके इसलिए ऐसा किया जाएगा। बैठक में तय किया गया है कि बैंक लोगों को आसानी से लोन दे सकें, इसके लिए उपाए किए जाएंगे। इसी बैठक में फैसला हुआ कि बैंकों के लोन मेले की निगरानी वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर करेंगे।

वित्त मंत्री के ऐलान के अनुसार लिक्विडिटी बढ़ाने के लिए बैंकों को मेला लगाकर लोन बैंडिंग का ऑर्डर दिया गया है। उनके अनुसार सिस्टम में पैसे की तंगी नहीं है, लेकिन लोगों को लोन लेने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसके चलते बैंकों को ऐसा करने का आदेश दिया गया है। इस योजना के अनुसार बैंक देश के 200 शहरों में लोन मेले का आयोजन इसी महीने यानी 29 सितंबर 2019 तक चलेगा। इसके बाद 1 से 15 अक्टूबर तक बाकी 200 शहरों में लोन मेले का आयोजन किया जाएगा।

11 लाख रेलवे कर्मचारियों को मिलेगा 2024 करोड़ रुपए का दिवाली बोनस, ई-सिगरेट पर प्रतिबंध

इस दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि ये लोन मेलों की निगरानी की जिम्मेदारी वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर को दी गई है। वित्त मंत्री पिछले कुछ दिनों से लगातार योजनाओं का ऐलान कर रहे हैं, जिससे मंदी के बने रहने के माहौल को दूर किया जा सकता है।

साथ ही वित्त मंत्री ने MSME सेक्टर के लिए राहत देने वाली खबर की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बैंक आगमी 31 मार्च 2020 तक इस सेक्टर में किसी नए एनपीए की घोषणा भी नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि बैंक इस सेक्टर को वन टाइम सेटेलमेंट की अगर बात आती है, उसकी संभावना देखेंगे। बैंक यह भी देखेंगे कि फंसा हुआ लोन रिकास्ट हो सकता है या नहीं।

राम विलास पासवान के सेब में मिली मोम (वैक्स), जानिए आगे क्या हुआ