वाहन चालकों को बड़ी राहत, FASTag अनिवार्यता की समय सीमा बढ़ाई गई

पहले FASTag को 1 दिसंबर 2019 से सभी वाहनों के लिए अनिवार्य किया गया था, पर अब इसे बढ़ाकर 15 दिसंबर 2019 कर दिया गया है। FASTag deadline has been extended till 15 December 2019 .

4
FASTags
FASTags will be mandatory from 15 Dec 2019
  • FASTag की अनिवार्यता की समय सीमा 1 दिसंबर से बढ़ा कर 15 दिसम्बर 2019 कर दी गई है।
  • FASTag ऑनलाइन/ऑफलाइन खरीद सकते है (buy FASTag online/offline)।
  • FASTags वर्तमान में 22 प्रमाणित बैंकों द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग टोल प्लाजा और बैंक शाखाओं में प्वाइंट-ऑफ-सेल (पीओएस) जैसे विभिन्न चैनलों के माध्यम से जारी किये जाते है।

वाहन चालकों को बड़ी राहत। पहले FASTag को 1 दिसंबर 2019 से सभी वाहनों के लिए अनिवार्य किया गया था, पर अब इसे बढ़ाकर 15 दिसंबर 2019 कर दिया गया है। यह निर्णय सरकार के द्वारा इस लिए लिया गया है ताकि FASTag को सभी वाहन चालक समय पर खरीद सके। यदि आप नए फास्टैग (FASTag) के लिए अप्लाई करते है, तो फास्टैग को आप तक पहुंचने में 8 से 15 दिन लग जाते है। आप ये फास्टैग ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीको से खरीद सकते है।

आप को बता दे की सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने घोषणा में कहा कि 1 दिसंबर 2019 से सभी वाहनों के लिए FASTags अनिवार्य हो जाएंगे। 1 दिसंबर 2019 जिन वाहनों में FASTags नहीं होंगे उन वाहन मालिकों को सामान्य से दोगुना टोल देना होगा। ऐसा फैसला टोल गेट में बढ़ते जाम की स्थिति से निपटने के लिए, टोल गेट में आयेदिन मार पीट की घटनाओ में कमी लाने गया है। FASTags वर्तमान में 22 प्रमाणित बैंकों द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग टोल प्लाजा और बैंक शाखाओं में प्वाइंट-ऑफ-सेल (पीओएस) जैसे विभिन्न चैनलों के माध्यम से जारी किये जाते है।

ईएसआईसी (ESIC): नौकरी जाने के 2 साल बाद भी मिलेगी सैलरी, जानें कैसे

सरकार ने बुधवार को कहा कि अब तक 70 लाख से अधिक FASTags जारी किए जा चुके हैं और मंगलवार को इसकी बिक्री 1,35,583 के स्तर पर पहुंच गई है। अभी वाहन चालक रेगुलर तरीके से 15 दिसम्बर 2019 तक सभी टोल से यात्रा कर सकेंगे।

Government Of India

नया FASTags खरीदने और रिचार्ज करने के लिए यह आर्टिकल जरूर पढ़े

1 दिसंबर 2019 से सभी वाहनों के लिए FASTag होगा अनिवार्य: जाने कैसे खरीदें स्टेप बाई स्टेप

FASTag को कैसे करें रिचार्ज (How to recharge your FASTag)

यदि आप का FASTag आपके बैंक खाते से पहले से जुड़ा हुआ है, तो प्रीपेड वॉलेट में अलग से पैसे लोड करने की जरुरत नहीं है। आपको केवल यह सुनिश्चित करना होगा कि टोल भुगतान के लिए आपके FASTag से जुड़े बैंक खाते में पर्याप्त बैलेंस है। हालाँकि, अगर आपने FASTag को प्रीपेड वॉलेट (NHAI प्रीपेड वॉलेट) से लिंक किया है, तो इसे विभिन्न चैनलों जैसे चेक या UPI / डेबिट कार्ड / क्रेडिट कार्ड / NEFT / नेट बैंकिंग के माध्यम से रिचार्ज किया जा सकता है। इसके अलावा, विभिन्न चैनलों के माध्यम से FASTag खाते को रिचार्ज करने की लिए अतिरिक्त शुल्क लगेगा।

हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पॉलिसी (Health Insurance Policy) में पाएं योग और जिम क्‍लासेस के फ्री वाउचर

FASTag प्रीपेड वॉलेट में अधिकतम बैलेंस रखने की एक सीमा है जो इस प्रकार है.

सीमित केवाईसी फास्टैग खाता धारक के लिए(For limited KYC FASTag account holder): इस प्रकार के FASTag प्रीपेड वॉलेट में 20,000 रुपये से अधिक नहीं रखा जा सकता है। यानि की आप एक महीने में अधिकतम 20,000 रुपये ही प्रीपेड वॉलेट में रख सकते है।

पूर्ण केवाईसी FASTag खाता धारक के लिए(For full KYC FASTag account holder): इस प्रकार के FASTag प्रीपेड वॉलेट में आप 1 लाख रुपये से अधिक नहीं रख सकते है। भारतीय राजमार्ग प्रबंधन कंपनी लिमिटेड के अनुसार इस खाते में कोई मासिक पुनः लोड कैप नहीं है अर्थात आप एक महीने में कभी भी और कई बार अपना फास्टैग वॉलेट रिचार्ज कर सकते।

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here