अमेरिका ने किया आगाह- जम्मू-कश्मीर में हमला कर सकते हैं पाकिस्तानी आतंकी

2
अमेरिका ने किया आगाह- जम्मू-कश्मीर में हमला कर सकते हैं पाकिस्तानी आतंकी
अमेरिका ने किया आगाह- जम्मू-कश्मीर में हमला कर सकते हैं पाकिस्तानी आतंकी

अमेरिका ने भारत में आतंकी हमले को लेकर चेतावनी दी है, कहा है। कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाने को लेकर कई देशों को भारत में बड़े आतंकी हमले का डर है। अगर पाकिस्तान आतंकी गुटों पर लगाम कसने में नाकाम रहा तो भारत के फैसले से. भड़के आतंकी गुट भारत में कभी भी हमला कर सकते हैं। भारत-प्रशांत सुरक्षा मामलों के सहायक रक्षा मंत्री रैंडल शाइवर ने कहा- ‘पाकिस्तान आतंकी गुटों पर कितनी नजर रखेगा,यह अपने आप में चिंता की बात है। कश्मीर का विशेष दर्जा छिनने से नाराज़ आतंकी सीमा पार गतिविधियों को अंजाम दे सकते हैं । मुझे कतई नहीं लगता कि चीन इस बात का समर्थन करेगा।

चीन पाक को केवल कूटनीतिक और राजनीतिक समर्थन ही देगा।’ कश्मीरी अलगाववादियों को पाकिस्तान उच्चायोग से फंडिंग होती रही है- एनआईए ने आतंकियों और अलगाववादियों को मिलने वाली आर्थिक मदद की जांच में पाक की सीधी भूमिका का दावा किया है। एनआईए के दो अधिकारियों के अनुसार, हुरियत नेता सैयद अली शाह गिलानी, शब्बीर शाह, यासीन मलिक, असिया अंद्राबी और मसरत आलम को नई दिल्ली स्थित पाक उच्चायोग से पैसा मिला है। सऊदी प्रिंस बोले- कश्मीर पर उठाए गए कदमों की जरूरत को समझते हैं- सऊदी अरब ने कश्मीर के मुद्दे पर भारत का समर्थन किया है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने बुधवार को सऊदी प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की।

3 खुफिया एजेंसी- 3000 पाकिस्तानी एलओसी लांघने की फिराक में, रिपोर्ट.. 32 पाक चौंकियों पर आतंकी घुसपैठ की ताक में

पिछले एक हफ्ते में तीन अलग-अलग खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट में लगातार पाकिस्तान की बड़ी साजिश की ओर इशारा किया जा रहा है।

  • गृहमंत्रालय द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है। कि 3000 पाकिस्तानी नागरिकों को एलओसी लांघने के लिए तैयार
    किया गया है। सर्दी शुरू होने से पहले पाकिस्तान उन्हें एलओसी पार कराना चाहता है।
  • आईबी की रिपोर्ट में बताया गया है कि एलओसी पर 32 पाकिस्तानी चौकियों पर आतंकी जमे हुए हैं। वे पाक सेना के संरक्षण में सीमा पार करने की फिराक में हैं। इसलिए बार-बार फायरिंग हो रही है।
  • पंजाब में ड्रोन से हथियार भेजने पर एजेंसियों ने बताया है कि ये हथियार गैंगस्टर्स को भेजे गए हैं। खालिस्तानी मूवमेंट के लोगों को पाक से फंडिंग की जा रही है।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here